blogging

SEO [Search-Engine-Optimization]? how to improve on-page SEO

 

    SEO [Search-Engine-Optimization] 

 
SEO-search-engine-optmization
SEO-search-engine-optmization
 
 
 SEO [Search-Engine-Optimization]दोस्तों साधारण शब्दों  में बात करे तो SEO [Search-Engine-Optimization] का मतलब अपनी वेबसाइट को करोडो वेबसाइटों में से गूगल के पहले पेज पर रैंक करना ही SEO कहलाता है| सर्च इंजन रैंकिंग में कितना समय लगेगा? ये करोडो का सवाल है जो हर एक 
ब्लॉगर/ वेबसाइट मालिक का पीछा करता है| ये कोई जादू या कोई ऐसा खास बटन नहीं है जिसे दबा कर वेबसाइट को गूगलके प्रथम पेज पर रैंक किया जा सकें| 

 SEO [Search-Engine-Optimization] करने के लिए अच्छी स्किल होनी चहिये इसके लिए बहुत सी इंस्टिट्यूट SEO [Search-Engine-Optimization] की ट्रेनिंग दे रही हैं,जिसकी मद्दत से आप SEO Specialist बन सकते हैं| 
Infront Webwork के एक सर्वे के अनुसार गूगल का पहला [सर्च इंजन रिजल्ट पेज ]लगभग 95 % वेब ट्रैफिक प्राप्त करता है | 

SEO [Search-Engine-Optimization] के फायदे

  • दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है गूगल भी एक website है, जिसमे निरंतर Machine Learning होती रहती है| Google अपना Algorithm सिस्टम आये दिन बदलता रहता है| ताकि कोई Spamming ना कर पाए|

 SEO [Search-Engine-Optimization] के कई फायदे है | 

  • पहले पेज पर आने का मौका – अगर आप एक ब्लॉगर या वेबसाइट पर आर्टिकल पोस्ट करते हो तो आपकी priority यही होगी की आपके आर्टिकल्स गूगल के पहले पेज पर रैंक करे,लेकिन दोस्तों ऐसा तभी संभव होगा जब आपकी वेबसाइट की SEO [Search-Engine-Optimization]] proper हुआ होगा|   
  • पहले पेज पर आने के वजह से ज़्यादा Traffic -अगर आपकी वेबसाइट गूगल के पहले पेज पर रैंक कर रही है तो Obviously आपकी वेबसाइट पर  ज़्यादा  से ज़्यादा organi  ट्रैफिक आएगा| 
  • ज्यादा से ज्यादा  Revenue –वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक आने से आपको ज़्यादा से ज़्यादा income होगी अगर आपकी वेबसाइट new है तो CPC[Cost Per Click] थोड़ा  कम मिलता है| old वेबसाइट का CPC[Cost Per Click] ज्यादा होता है | 
SEO [Search-Engine-Optimization] के प्रकार

SEO [Search-Engine-Optimization]
 

SEO [Search-Engine-Optimization]  3  प्रकार के होते है 

 
  1. Whitehat SEO 
  2. blackhat SEO 
  3. Greyhat SEO 
 

whitehat SEO [Search-Engine-Optimization]

 

whitehat SEO [Search-Engine-Optimization] ये एक slow process है| किसी भी वेबसाइट/ब्लॉग को  whitehat SEO [Search-Engine-Optimization] की मद्दत से  गूगल की टॉप लिस्ट में लाने में काफी time लगता है|  whitehat SEO [Search-Engine-Optimization] SEO का अबतक सबसे Best तरीका माना गया है|  whitehat SEO [Search-Engine-Optimization] क्योकि अगर आपकी वेबसाइट/ब्लॉग एक बार गूगल के टॉप रैंक में आ जाती है तो लम्बे समय तक बरकरार रहेगी| जिससे आपकी वेबसाइट ब्लॉग पर मिलियंस ट्रैफिक  आएंगे साथ ही अच्छा खासा Revenue generate भी कर पाएंगे 
whitehat SEO की तकनीक 
  1. Domain trust 
  2. good quality web page 
  3. post related image 
  4. website related content 
  5. follow google algorithm
  6. page rank 
  7. latest seo technique 
  8. keyword research &website analytic 
  9. off page optimization
  • blackhat SEO [Search-Engine-Optimization]
blackhat SEO [Search-Engine-Optimization] इसके अंतर्गत कम अवधि के लिए वेबसाइट/ब्लॉग गूगल पर रैंक किया जाता है| जैसे त्यौहारो के अवसर पर इवेंट्स ब्लॉगिंग वगैरा |बाद में इस तरह की वेबसाइट/ब्लॉग को गूगल Derank कर देता है|
blackhat SEO की तकनीक  
  1. do  follow & no follow backline -not set 
  2. cloaking
  3. hidden link
  4. keyword stuffing
  5. link spam
  • Greyhat SEO [Search-Engine-Optimization]
Greyhat  SEO [Search-Engine-Optimization] के अन्तर्गत उपयुक्त दोनों सम्मलित है|  इस तरह का SEO [Search-Engine-Optimization] गूगल की Algorithm को धोखा देकर /छुपकर गूगल पर टॉप रैंक पर लाया जाता है|  Greyhat SEO [Search-Engine-Optimization] करने के लिए 95 फीसदी
whitehat SEO [Search-Engine-Optimization] तथा 5 फीसदी blackhat SEO [Search-Engine-Optimization] उत्तरदाई होता है| Greyhat SEO करने में Blackhat SEO जितना हो सके कम use में लें नहीं इस तरह की वेबसाइट जो गलत तरीके से rank होकर टॉप पर आती है| गूगल Penalize कर देता हैं|  
Greyhat SEO की तकनीक 
  1. keyword stuffing 
  2. purchase
  3. cloaking
  4. duplicate content        

on-page SEO [Search-Engine-Optimization] में सुधार कैसे लाएं| 

on-page SEO [Search-Engine-Optimization] वेबसाइट के सर्च इंजन रैंकिंग को तथा Organic Traffic को बढ़ावा देता है| 

 

  • Generate high-quality content कोई भी कंटेंट on-page SEO के लिए एक दिल की तरह काम करता है| क्योकि गूगल हमेसा उच्च गुणवत्ता वाले content को प्राथमिकता देता है ऐसा कंटेंट जो लोगो के के लिए helpfull, informative, & user relevant होगा उसी को ज्यादा तवज्जो देता है/गूगल में ज्यादा  रैंक होता हैं  

 

  • keyword optimization गूगल का algorithms गूगल पर सर्च करने वाले खोजकर्ताओं के इरादों को समझने में सुधार कर रहा है| इसके लिए कई प्रकार के artificial intelligence काम में लेता है | 
  • गूगल का पेंगुइन Algorithm content की गुणवत्ता के आधार पर वेबसाइट का मूल्यांकन करता है| और जिस वेबसाइट का UI, कंटेंट अच्छा होता है उसे टॉप रैंकिंग पर रखता है| 
  • page titlesपेज टाइटल शीर्षक tag का उपयोग सर्च इंजन द्वारा सर्च परिणामो में पेज प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है,और ये ब्राउज़र के ऊपर  दिखाई देता  है| ये टैग सर्च और उपयोगकर्ताओं बताते है की आपका  पेज किस बारे में है| गूगल अपने टाइटल टैग में केवल 50-60 अक्षरों के बिच प्रदर्शित करता हैइसलिए डिस्क्रिप्शन को शार्ट रखना चाहिए |
 
  •  Alt tag प्रत्येक  फोटो वीडियो जो आपके वेबसाइट/ब्लॉग पर है इसकी छाप पर descriptive words जोड़े जा सकते है| जिन्हे alternative text के रूप में जाना जाता है ये descriptive words सर्च इंजन को आपकी फोटो वीडियो विवरणों में पाए गए keywords उपयोग करके आपके पेज  का पता लगाने की अनुमति प्रदान करते है| जिससे वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ जाती है|  

 

 

  • site  maps साइट मैप Page जो एक विशेष रूप से अन्य मुख्य पेजो या आपकी वेबसाइट के लिए लिंक बनता है जो बहुत जल्दी आपके पेज को Google के Bot, Spiders को ढूढ़ने में आसानी होती है और काफी कम क्लिक पर साइट पर पंहुचा जा सकता है

 

  • mobile siteलगभग 40 -45 % Organic traffic मोबाइल से आता है| mobile friendly interfac वाली वेबसाइटे गूगल सर्च में ज्यादा रैंक करती है| इसलिए आपको mobile friendly Template theme का इस्तेमाल करें| 
 

conclusion 

 सही तरीके से SEO करके आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर Orgnic traffic लाए अगर आप ग़लत तरीके से अपनी वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ाएंगे तो Google की नज़र में आप एक न एक दिन जरूर आ जायेगे इससे आपकी वेबसाइट Penalized तो होगी ही साथ सी साथ आपकी सारी मेहनत और time जो अपने website grow करने में दिया था सब खराब हो जायेगा| तो आप एक Right way में सर्च इंजन में साइट रैंक करवाए  इसके अलावा  कोई और तरीका नहीं है| 
 
हाँ अगर आप SEO अच्छे से करते हो तो निश्चित आपकी साइट गूगल में रैंक करेगी| 
पूरा आर्टिकल SEO [Search-Engine-Optimization] पढ़ने के लिए धन्यवाद ,पसंद आये तो सोशल मीडिया पर शेयर करे|  
धन्यवाद 
 
  1.  
  2.  
 

1 2Next page

arvind

Hey, this is Arvind A full-Time Blogger & Digital Marketer, freelancer, blogging guidance

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button