howto

KYC Kya Hai in Hindi?|Bank me Kyc ka Matalb Kya Hota Hai?|

“KYC kya hai in Hindi”|kyc Kaise Kare

kyc-kya-hai
kyc kya hai?
kyc kya hai दोस्तों अगर आपका किसी भी Bank में खाता  (Account) है| तो कभी न कभी आपको Bank से एक kyc से Related SMS, Email जरूर आया  होगा,जिसमे आपको सख्त हिदायत दिया गया होगा कि अपना लेन-देन बरकऱार रखने के लिए kyc प्रक्रिया पूरी करे| तो आखिर “kyc kya hai” , “kyc ke kya fayade hai” और “kyc ka  bank me kya matlab hota hai”  आज इन सभी को बिस्तार से जानेंगे इस आर्टिकल  के माध्यम से| 
 
kyc ka Matlab:-आपका (आधार नम्बर) aadhaar number, पैन नम्बर (PAN number) आपके saving /current bank account से link होना ही kyc कहलाता है| जहाँ पर पेमेंट (payment) का काम होता है, मतलब पैसो का लेन-देन होता है, वहा  पर KYC बेहद जरुरी होता है| 
 
 
kyc full form? KYC ka Pura Naam 

know your customer(old ) 
know your client(new) 
 
central KYC  kya hai?
दोस्तों  भारत में kyc की तरह एक और kyc प्रक्रिया होती है जिसे “C kyc, central kyc” कहते है| kyc, और C kyc दोनों ही महत्वपूर्ण है|  दोनों अलग-अलग स्थानों पर मान्य है| 
भारत में central kyc की शुरुआत केंद्रीय बजट 2012-13 में किया गया था| लेकिन पूरी तरह से 2016 में लागू  हुआ| central kyc  सिर्फ एक बार होती है| 
 
mutual funds,bima company,NBFC etc के द्वारा किया जाता है| central kyc का registration जो  नागरिक केंद्रीय स्तर पर वित्तीय लेन-देन करते है| उनका record केंद्रीय स्तर पर संभाल कर रखा जाता है| वित्तीय संस्थान इस record को secure रखती है, इसकी मद्दत से  वित्तीय संस्थान किसी भी customer की पहचान जब चाहे तब आसानी से कर सकती हैं  

यदि आप c kyc करवाना चाहते है तो आप आर बी आई  (RBI) द्वारा मान्यता प्राप्त विनियमित  संस्थानो से contact कर सकते है| C kyc का संचालन IRDA, PFRDA, के द्वारा किया जाता है, आप mutual fund, bima stock, broker etc के द्वारा c kyc  करा सकते है| 
 
जब कोई c kyc के लिए  apply करता है तो उसे एक 14 अंको का  unique code provide किया जाता है|  जिसे पिन या kyc नम्बर कहते है| 
 
C KYC ke liye documents:-
  • color photo(413×531 pixels 300 dpi)
  • photo-id documents( smart card, driving license, voter id card, Aadhaar card)
  • Residential certificate
  • Fully filled KYC form with signature

“central KYC registry kya hai”

जब आपका C KYC प्रक्रिया पूर्ण (complete) हो जाता है| तो आपके Gmail पर एक confirmation mail आता है, जहाँ पर customer का नाम, 14 अंको का unique code, Aadhaar card no लिखा रहता है| mail के ऊपर side एक logo के साथ central KYC registry print रहता है| 
 
“pf kyc kya hai”
पी एफ (pf) का मतलब होता provident fund, Salaried लोगो की Salary से 12% amount हर महीने pf fund aacount में deposit हो जाता है| जो retirement के बाद उनको वही amount Interest के साथ return मिलता है| यहाँ पर आपको kyc करना बहुत  जरुरी होता है नहीं तो आप
 
EPFO web portal पर online services का इस्तेमाल आप नहीं कर पाएंगे, pf kyc  के लिए आपका नाम, जन्मतिथि सभी documents पर समान होना चाहिए, और epf web portal पर भी, अगर आपको लगता है की कही पर कुछ mistake है तो पहले correction कर लें, उसके बाद ही,epf web portal पर  kyc submit करें| 
 
“KYC point kya hai”
KYC point normally कोई Shop जहाँ  पर हम Paytm या कोई भी kyc कराने के लिए जाते है उसे 
“kyc point kahte hai”
 
“KYC important kyo hai”
दोस्तों kyc सिर्फ Bank, Paytm में ही Use नहीं होती, इसको और भी कई मकसद के लिए  बनाया गया है|  मान लीजिये कोई Business चल रहा है, और वहा पर कोई customer है, client है तो business owner को या उस company को इतनी जानकारी तो जरूर होनी चाहिए की कल के date में वो जो customer है, जिसके साथ business relationship है अगर  वो कोई fraud करता है तो company उस तक kyc की मद्दत से ही पहुंच सकती है| तो अब आप समझ गए होंगे की kyc कितना महत्वपूर्ण है| 
 
Paytm की बात करे तो, यहाँ पर आप आसानी से  account बना सकते है, सिर्फ मोबाइल नम्बर, gmail acc की मद्दत से, अब paytm वालो के पास आपकी पुरी details नहीं है| details  के नाम पर सिर्फ उनके पास आपका मोबाइल नम्बर है| तो आप जब भी कोई transaction करते हो paytm to bank account, तो फिर आपको kyc submit करना ही पड़ेगा| kyc में  आपको अपना नाम, पिता का नाम,शहर का नाम, पिन कोड ,आपका आवासीय पता , ये सब जानकारी details kyc में fill करनी होती है| इससे क्या होगा लोग fraud करने से डरेंगे, अगर आप कुछ भी गलत करते हो तो company आपके घर तक आसानी से पहुंच सकती है| आपके बताये address पर police भेज सकती है| 
 
अगर आपके पास भी कोई business है तो अपने customer का kyc प्रक्रिया करा लें| अगर कभी goverment ने details मांग लिया की आप जिस customer के साथ काम कर रहे है| जिनके  साथ आपका business relation है| तो ऐसे में अगर आपके पास details नहीं है तो आपके लिए Problems create हो सकती है| 
जब आप SIM कार्ड लेने जाते हो| तो वहा  पर सिर्फ आपसे  आधार नम्बर माँगा जाता है| और आपकी kyc की Process एक आधार कार्ड से हो जाती है|  ऐसा क्यों? क्योकि आपके आधार कार्ड में आपका सारा information है| सोचिये एक business के लिए kyc बहुत important है| और वही कंपनी simply आपके आधार नम्बर से link करने के बाद fingerprint verify करने के बाद सारा काम कर देती है| इसके बाद आपसे कोई documents नहीं लेती इसका मतलब ये है आपका आधार कार्ड बहुत ही ज़्यदा महत्वपूर्ण (important) है|  भविष्य में  (in future) अगर आधार कार्ड के साथ कुछ गलत हो गया,data leak हो गया तो ऐसे में आपकी पूरी गोपनीयता हनन Privacy breach हो जाएगी| 

मैंने पहले भी बताया था IT sector में अगर कुछ कीमती है तो वो है आपका data कम्पनियाँ आपका data Use करके अपने आप को समृद्ध और शक्तिशाली बनाती हैं|  
 

“bank me kyc ka kya Matlab Hota hai”?

दोस्तों बैंक (bank) की बात करे तो बैंक में जो भी नियम लागू होता है वो वो आर बी आई (RBI) के दिशानिर्देश (Guideline) के according होता है| 
guideline इस प्रकार है 
सभी खातों (Accounts) को 3 श्रेणीयो में Category-wise divide किया गया है 
Risk profile
  • level 1 (low-risk)
  • level 2 (medium-risk)
  • level 3 (high-risk)
level 1 (low-risk): low-risk category में जो accounts आते है उनमे 10 साल में एक बार kyc की आवश्यकता पडती है| जब आप पहली बार bank में account खोलते हो तो उस समय आपसे जो documents लिया जाता है| वही मान्य रहता है|उसको ही update करते रहते है अगर आपका अकाउंट इस category में आता है तो| अब ऐसे ये कैसे पता चलेगा की कौन सा अकाउंट किस category में आता है| 
तो दोस्तों जिस खाते में easily guess करके पता लगाया जा सकता है, की इस Particular खाता  में income कहाँ से आ रही है| जैसे कोई Salaried account इस तरह के account में income source एक ही रहता है और fixed amount रहता है|| तो ऐसे में bank के कर्मचारी sure हो जाते है की इस खाता में income source multiple नहीं है, एक ही है| तो इस तरह के acc में kyc की बार बार जरूरत नहीं पड़ती| 
level 2 (medium-risk):- इस तरह के account में 8 साल में एक बार kyc की process किया जाता है| इस तरह के account business/current account  होते है| जहाँ पर income sources multiple होते है turnover ज़्यदा रहता है| amount fix नहीं रहता| 
level 3 (high-risk):-इस type के account में हर 2 साल में kyc document verification  किया जाता जाता है 
इस तरह के account owner
NRINon-Resident Indian
NGONon-Governmental Organization
TRUST-temple etc 
PEP-politically exposed person
 
ये लोग अगर 2 साल में kyc update नहीं करते है तो इनका account freeze कर कर दिया जाता है|  अब ऐसे में paise account में तो Credit  होता  रहेगा, लेकिन debit  नहीं हो पायेगा  जबतक kyc submit नहीं हो जाती| 
6 महीने का time दिया जाता है| अगर इस बिच customer re kyc नहीं करता है तो account seizes कर दिया जाता है| 
 
“kyc me kya-kya document lagta hai”
kyc में 6 प्रकार के documents मान्य होते है 
  1. passport 
  2. driving license (Photo ke sath)
  3. PAN(permanent account number)
  4. voter’s identity card(election communication of India ke dwra bana hona chahiye)  
  5. job card (NREGA se satyapit hona chaiye state-government ke  signature hone chahiye)
  6. aadhaar card( jisme apka Naam aur address clear mention hona chahiye 
इन 6 प्रकार  के documents से kyc प्रक्रिया की जाती है 
 

sbi kyc kya hai?online Kaise Kare?

sbi bank में आप 2 तरीके से kyc submit कर सकते है, पहला आप अपने home branch जाकर kyc form fill करके submit कर सकते है| 
दूसरा तरीका ये है की आप घर बैठे online kyc submit कर सकते है| 
  • Home branch method:- इसके लिए आपको अपने नज़दीकी शाखा पर जाना पड़ेगा वहा पर आपको free-of-cost एक form मिल जायेगा, जिसमे आपको अपनी सारी  details Proper fill करके,aadhaar card,PAN card, का xerox copy form के साथ submit करना होता है|
 
  • online method:- online kyc के लिए आपके पास internet banking होना अनिवार्य  है| 
step by step-
 1 सबसे पहले आपको onlinesbi log-in कर लेना है| 
2 अपना username, password enter करें | 
3 आपको एक dashboard show होगा, आपके Left side एक three line show हो रही  होगी 𝄘👈 कुछ इस तरह की 
4 यहाँ पर आपको click करना है| आपके सामने बहुत से options देखने को मिलेंगे, लेकिन उनमे से आपको e services  पर click करना है| 
5 एक new page open होगा यहाँ पर  आपको PAN Registration  पर click करना है|, जैसे ही आप click करेंगे आपसे आपका profile password माँगा जायेगा, internet banking password, internet profile password दोनों अलग अलग होते है| आपको पता होगा अगर आप Net banking use करते होंगे तो 
 profile password enter करने के बाद, आपके सामने new window open हो जाएगी, जहाँ पर आपका account number, cif number show हो रहे होंगे|, अगर ये process आप mobile से कर रहे है तो आपको page को अपने left में drag कर लेंगे, आपको pan registration का option show होगा, इस पर click कर देंगे| 
7 click करते ही आपको new page show होगा यहाँ पर आपको pan number enter करने का option मिल जायेगा, simply आप pan नंबर  enter करके  submit कर दें| new page open हो जायेगा यहाँ पर आपको confirm  पर click कर देना है registered mobile number पर OTP आएगा आपको otp enter कर लेना है| आपके सामने  new window open हो जाएगी| जहाँ पर request successfully acceptedका notification show होगा that’s it | 
 
“pnb kyc online Kaise Kare”
दोस्तों branch पर जाकर आप आसानी से kyc form fill करके kyc process पूरीकर  सक सकते है| लेकिन इस digital ज़माने में bank के चक्कर क्यों काटे जब घर बैठे सभी काम online हो जा रहा है| 
“online  pnb kyc kaise kare” step by step process 
 

pnb online kyc के लिए आपको  2 option देता है-1 mobile banking 2 internet banking 

  1. सबसे पहले आपको pnb one mobile banking App को mobile में install कर लेना है| install करने के बाद आप अपना app open करेंगे, आपको  interface show होगा, यहाँ पर आपको search BAR आपके right side में देखने को मिल जाएगा, आपको search पर TAP करना है| 
  2. search bar में aadhaar registration type करके  search करेंगे aadhaar registration open हो जायेगा, इस पर click करना है| आपको  कुछ इस तरह का ⏷👈 एक symbol show होगा इस पर click करना है| यहाँ पर आपका account show होगा  simply click कर लेंगे| 
  3. click करने के बाद आपसे आपका aadhaar number माँगा जायेगा, आप अपना aadhaar number enter कर दें| 
  4. same इसी तरह आपको अपना pan card भी Registrationकरना है| जैसे जो process aadhaa के लिए बताया, बिल्कुल  same way में आपको अपना PAN भी Register करना है| 


“paytm kyc kya hai”paytm kyc Kaise Kare”

दोस्तों paytm kyc 2 तरह की होती है mini kyc, full kyc जहाँ पर mini kyc में आपको पूरा  लाभ नहीं मिलता, दरअसल paytm आपसे kyc इसलिए करवाता है क्योकि paytm के पास आपकी information के नाम पर सिर्फ mobile number, gmail id है, normally आप paytm से mobile recharge, dishtv rechareg etc.. बिना kyc झंझट के कर सकते है| लेकिन  जब आप इसके आगे बढ़ते है जैसे paytm को अपने bank account से link करते है| या paytm wallet से किसी को पैसे transfer करते हो, तो फिर आपको kyc प्रक्रिया को पूरी करनी होती है| जिसमे आपकी Atoz सारी information मांगी जाती है| 

paytm kyc Kaise kare step by step process 

पहला तरीका:-
  1. सबसे पहले अपना paytm app open कर लें आपको paytm dashboard show होगा UPI से just next आपको kyc  का option देखने  को मिल जायेगा,आपको इस पर click करना है| 
  2. click करते ही आपके सामने एक form open हो जायेगा, इस form को carefully आपको fill-up कर लेना है| fill करने के बाद आपको submit का button पर click कर देना है| 24-48 घंटे में आपका kyc update हो जाएगी| 
दूसरा तरीका:-
  1. paytm app open करें 𝄘👈 three line पर click करें| scroll करके सबसे निचे आ जाये| my profile setting पर click करें 
  2. यहाँ पर आपको complete your kyc पर click करना है| 
  3. एक new page open हो जायेगा Unblock all Benefits  पर click करें| 
  4. आपको 2 option show होंगे उनमे से आपको aadhaar verification at your Droopstep  पर click कर देना है| इससे ये फायदा होगा की आपको कही जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, एक agent आपके घर आएगा और आपका  paytm kyc कर देगा| 
  5. आप अपनी सुविधानुसार date  select कर सकते है की आप paytm  kyc agent को किस date में घर बुलाना चाहते है| तो आप अपने हिसाब से select कर लीजिये| 
  6. select करने के बाद आपसे पुछा जायेगा  की आपके पास PAN card है या नहीं|  अगर आपके पास pan card है तो उसका नम्बर enter करके proceed कर देना है| 
  7. new page open होगा यहाँ पर आपको full kyc पर select करना है| 
  8. उसके बाद आपको proceed to Book Appointment पर click कर देना है| 
  9. आपको एक QR code receive हो जायेगा उसे आपको save करके रखना है| जब agent आएगा तो उस QR Code को देना होगा| 
  10. आपके पास PAN,aadhaar card होना जरुरी है| 
 
Paytm kyc karvane ke kya fayade hai?
अगर आप Paytm kyc नहीं करवाते है तो normally mobile phone recharge,bill pay करने तक ही सीमित रह जायेंगे| अगर आप kyc करा लेते हो तो आप paytm का advanced features का लाभ उठा पाएंगे|  
 
  • paytm gift voucher
  • paytm postpaid loan
  • paytm mutual fund
  • paytm cold purchase
  • paytm too many services
  • paytm payment reminder
  • Paytm your own language
  • Paytm money transfer
  • Paytm money accept QR Code
  • Paytm payment bank account open
 तो ये है कुछ Paytm के feature जो आपके लिए काफी helpful हो सकते है| तो दोस्तों उम्मीद है की “kyc kya hai” “kyc ke kya fayade hai” “bank me kyc ka kya Matlab Hota hai” इसके बारे में आपको कुछ न कुछ  सिखने को जरूर मिला होगा| अगर आपका कोई सवाल/सुझाव हो तो comment जरूर करें|  
धन्यवाद 

arvind

Hey, this is Arvind A full-Time Blogger & Digital Marketer, freelancer, blogging guidance

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button